वायुसेना ने फूल बरसाए, सेना ने बैंड बजाए, नौसेना के जंगी जहाज हुए रोशन

Total Views : 727
Zoom In Zoom Out Read Later Print

नई दिल्ली, (परिवर्तन)। कोविड-19 महामारी को मात देने के लिए अपनी और परिवार की परवाह किए बगैर जी-जान से जुटे डॉक्टरों, नर्सों, सफाईकर्मियों, पुलिस, होमगार्ड, डिलिवरी बॉय और मीडिया कर्मियों जैसे प्रथमश्रेणी के कोरोना वारियर्स के प्रति रविवार सुबह तीनों सेनाओं ने अनोखे तरीके से सम्मान जताया।

भारतीय वायु सेना के लड़ाकू और परिवहन विमानों ने फ्लाईपास्ट करके उन अस्पतालों के ऊपर फूलों की बारिश की जहां कोरोना के मरीजों का इलाज किया जा रहा है। एयर फोर्स के विमानों ने श्रीनगर से त्रिवेंद्रम तक और असम के डिब्रूगढ़ से गुजरात के कच्छ तक फ्लाईपास्ट किया, जिसका गवाह पूरा राष्ट्र बना। 

भारतीय वायु सेना के विमानों ने आज सुबह 10 बजे से दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र में फ्लाईपास्ट करके कोरोना वारियर्स को हवाई सलामी देने का सिलसिला शुरू किया, जो आधे घंटे तक चला। फाइटर जेट सुखोई-30 एमकेआई, मिग-29 और जगुआर सहित लड़ाकू विमानों ने राजपथ पर उड़ान भरी। राजधानी की परिक्रमा करने के दौरान दिल्ली के निवासी अपने घरों की छत से इस नजारे के गवाह बने। इसके अलावा सी-130 परिवहन विमान ने पूरी दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र को कवर किया। इन विमानों ने विशेष रूप से पक्षियों और एयरोस्पेस सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए 500 मीटर से 1000 मीटर की अनुमानित ऊंचाई पर उड़ान भरी। 

वायुसेना के प्रवक्ता इंद्रनील नंदी ने बताया कि आज सुबह दिल्ली में बारिश होने से कोरोना योद्धाओं के प्रति सम्मान जताने के कार्यक्रम में थोड़ा व्यवधान हुआ लेकिन भारतीय वायुसेना के चॉपर ने सुबह नौ बजे इंडिया गेट पर पुलिस वार मेमोरियल पर फूलों की पंखुड़ियां गिराकर शहीदों के प्रति सम्मान व्यक्त किया। भारतीय वायुसेना ने मेडिकल प्रोफेशनल्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स के कोरोना महामारी के खिलाफ सराहनीय काम के प्रति आभार प्रकट करने के लिए राजपथ के ऊपर से फ्लाईपास्ट किया। 

इसके बाद दिल्ली के अस्पतालों दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल, जीटीबी अस्पताल, लोकनायक अस्पताल, राम मनोहर लोहिया अस्पताल, सफदरजंग अस्पताल, गंगा राम अस्पताल, बाबा साहेब अंबेडकर अस्पताल, मैक्स साकेत, रोहिणी अस्पताल, अपोलो इंद्रप्रस्थ अस्पताल और कैंट स्थित थलसेना के रेफरल अस्पताल के ऊपर फूलों की बारिश कर डॉक्टरों और कोरोना वारियर्स के प्रति आभार जताया गया। साथ ही उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एयरफोर्स के हेलीकॉप्टर ने कमांड हॉस्पिटल और केजीएमयू हॉस्पिटल पर फूल बरसाए। चंडीगढ़ में भारतीय वायुसेना के विमान सी-130 ने सुखना झील के ऊपर से फ्लाई पास्ट किया। श्रीनगर में डल झील के ऊपर भारतीय वायुसेना ने फ्लाई पास्ट किया। मुंबई में मरीन ड्राइव से वायुसेना के विमान ने फ्लाई पास्ट करके 'कोरोना योद्धाओं' के प्रति आभार प्रकट किया। बेंगलुरु में भारतीय वायुसेना ने इस मुश्किल वक़्त में लोगों को अपनी सेवाएं दे रहे 'कोरोना यो​द्धाओं' के प्रति आभार प्रकट करने के लिए विक्टोरिया अस्पताल में स्वास्थ्यकर्मियों पर फूल बरसाए।

भारतीय सेना के प्रवक्ता कर्नल अमन आनंद ने बताया कि सेना के जवानों ने सुबह 10 बजे दिल्ली एम्स में, 10.30 बजे कैंट बोर्ड हॉस्पिटल, नरेला के बेस अस्पताल में और सुबह 11 बजे गंगाराम अस्पताल और सेना के आर एंड आर हॉस्पिटल के बाहर आर्मी बैंड ने परफॉर्म किया। इसके अलावा देश के कई जिलों के कोरोना अस्पतालों में माउंटेन बैंड डिस्प्ले करके पुलिसबलों के समर्थन में पुलिस मेमोरियल पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए। सशस्त्र बलों ने पुलिस बलों के समर्थन में जिलों के पुलिस स्मारक पर शंखनाद करके उनके प्रति सम्मान व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के चलते कोई अभियान कार्य प्रभावित नहीं हुआ है, न प्रभावित होगा। इसके अलावा कोलकाता में शाम को आर्मी बैंड विक्टोरिया मेमोरियल में परफॉर्मेंस देंगे। गुजरात के गांधीनगर में आर्मी बैंड ने परफॉर्म करके कोरोना वारियर्स को धन्यवाद दिया। कोरोना वॉरियर्स के प्रति सम्मान और आभार व्यक्त करने के लिए पंचकूला सेक्टर-6 के सरकारी अस्पताल के बाहर आर्मी बैंड ने लयबद्ध होकर प्रस्तुति दी। 

नौसेना के प्रवक्ता विवेक मधवाल ने बताया कि नौसेना के जवान समंदर पर तैनात रहे और लाइट जलाकर कोरोना वॉरियर्स के प्रति सम्मान प्रकट किया। इंडियन नेवी के हेलीकॉप्टरों ने सुबह दस से साढ़े दस बजे के बीच मुंबई में कस्तूरबा गांधी अस्पताल और आईएनएचएस अश्वनी पर, गोवा में भारतीय नौसेना ने 'कोरोना योद्धाओं' के प्रति आभार जताने के लिए गोवा मेडिकल कॉलेज और ईएसआई हॉस्पिटल के ऊपर से फ्लाई पास्ट किया और स्वास्थ्यकर्मियों पर फूल बरसाए। मुंबई में गेट वे ऑफ इंडिया के पास नेवी के पांच शिप रोशनी से जगमगाए। वह शाम 7.30 बजे शिप का सायरन बजाकर कोरोना वारियर्स के प्रति सम्मान व्यक्त करेंगे। इसके अलावा सुबह नेवी के हेलीकॉप्टर ने कोविड अस्पताल पर फूलों की बारिश की। नेवी के दो जहाज शाम 7:30 बजे से रोशन किए जाएंगे जो आधी रात तक जगमगाएंगे। दोनों जहाजों से वारियर्स को सलामी देने के लिए चेन्नई में मरीना बीच पर लंगर डाला गया। वेस्टर्न कमांड ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई में अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ताओं के प्रयासों का सम्मान करने के लिए भारतीय नौसेना ने पूर्व संध्या पर शनिवार को मुंबई तट पर पूर्वाभ्यास किया। त्रिवेंद्रम सहित पूरी कोस्टल लाइन पर कोस्टगार्ड अपने शिप को शाम को रोशनी से जगमगाएंगे।

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत ने भी सभी कोरोना वॉरियर्स का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि डॉक्टर, नर्स, सफाईकर्मी, पुलिस, होमगार्ड, डिलिवरी बॉय और मीडिया कर्मी इस कोरोना संकट के समय सरकार का यह संदेश जनता तक पहुंचा रहे हैं कि मुश्किल वक्त में भी जिंदगी को कैसे जारी रखना है। सशस्त्र बल इस वक्त देश के साथ मजबूती के साथ खड़े हैं। हम हर कोरोना वॉरियर के साथ हैं। हम यह लड़ाई जीतेंगे तो यह देश के हर नागरिक के अनुशासन और सब्र का नतीजा होगी। 

सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने कहा कि कोरोना वायरस के मुद्दे से निपटने में कोई समस्या नहीं है। सेना का पहला मरीज ठीक हो गया है और वह वापस ड्यूटी पर भी आ गया है। सेना में अब तक केवल 14 मामले आए हैं जिनमें से पांच ठीक होकर काम पर लौट आए हैं।

एयरफोर्स चीफ आरकेएस भदौरिया ने कहा कि कोरोना वायरस को लेकर हम सभी सावधानियां बरत रहे हैं। एयरफोर्स में अब तक कोरोना का कोई केस नहीं आया है लेकिन हम लगातार सावधानियां बरतेंगे। 

See More

Latest Photos