बिहार में पुलिस की तानाशाही

Total Views : 400
Zoom In Zoom Out Read Later Print

पटना, (परिवर्तन)। पूरे देश में लॉकडाउन की स्थिति बनी हुई है और लोगों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

इसके बीच एक खबर बिहार से आ रही है। जहां बिहार में लॉकडाउन के बाद पटना में एक सब्ज़ी व्यापारी के घूस न देने पर उसे गोली मार दी गई। हैरान कर देने वाली बात यह है कि घटना को अंजाम देने वाले कोई अपराधी नहीं बल्कि पुलिसकर्मी ही हैं। व्यापारी को गोली मारने की घटना के बाद तीनों पुलिसकर्मियों को  जेल भेज दिया गया है। ऐसा आरोप है कि बिहार पुलिस के इन तीन जवानों ने एक सब्ज़ी व्यापारी को इसलिए गोली मारी क्योंकि उसने पुलिस कर्मियों को घूस देने से इंकार कर दिया था। घायल व्यापारी के बयान पर आनन फ़ानन में आरोपी पुलिस कर्मियों को गिरफ़्तार कर जेल भेज दिया गया। बता दें कि बुधवार शाम जब आलू लदे एक वाहन को लेकर सोनू साव नामक व्यक्ति राजधानी पटना से सटे दानापुर आ रहा था तो पहले तीनों पुलिसकर्मियों ने उसे रोका और घूस मांगी। लेकिन जब वहां और लोग इकट्ठा हो गये तब एक पुलिस वाले ने पिस्टल से सोनू को गोली मार दी जो उसकी जांघ में लगी। बाद में घायल व्यापारी को दानापुर सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। गुरुवार को जैसे इस ख़बर की चर्चा शुरू हुई। तुरंत कारवाई करते हुए तीनों पुलिस कर्मियों को गिरफ़्तार कर जेल भेजा गया। पटना के वरीय पुलिस अधीक्षक का कहना है कि इस मामले में जल्द चार्जशीट भी दायर की जाएगी।

See More

Latest Photos