मिसाइल हमले में अमेरिका के 11 सैन्यकर्मी हुए थे घायल

Total Views : 143
Zoom In Zoom Out Read Later Print

लॉस एंजेल्स, (परिवर्तन)। अमेरिकी रक्षा मुख्यालय 'पेंटागन' ने इराक़ में असद वायु सेना अड्डे पर ईरानी मिसाइल हमले में ग्यारह अमेरिकी सेनाओं को मस्तिष्क संबंधी रोग होने और उनका उपचार कराए जाने के बारे में रहस्योद्घाटन किया है।

इन सैनिकों को उपचार के लिए जर्मनी और कुवैत भेजे जाने के बारे में ख़ुलासा किया गया है। उल्लेखनीय है कि ईरानी कुद्स कमांडर क़ासिम सुलेमानी की एक अमेरिकी ड्रोन हमले में नृत्यु के पश्चात ईरान ने 8 जनवरी, 2020 को इराक़ के असद वायु सेना अड्डे पर एक दर्जन मिसाइलें दागी थीं। उस समय अमेरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और अन्यान्य सेनाधिकारियों ने ईरानी हमले में किसी के हताहत होने से इनकार किया था। अमेरिकी सेंट्रल कमान के प्रवक्ता कैप्टन बिल अर्बन ने अब उक्त जानकारी साझा करते हुए कहा है कि असद वायु सेना अड्डे पर मिसाइल हमले में हुए विस्फोट के कारण सभी सैन्य कर्मियों की मस्तिष्क संबंधी रोगों के बारे में जांच की जा रही  है। इनमें किसी गंभीर  बीमारियों का अंदेशा होता है, तो तत्संबंधी सैन्यकर्मी को उच्च दर्जे के उपचार के लिए भेजा जाता है। मीडिया के साथ साझा की गई जानकारी के आधार पर ऐसे 11 सैन्य कर्मियों को जर्मनी और कुवैत भेजा गया है। उन्होंने बताया कि उपचार के पश्चात सभी सैन्य कर्मियों को  वापस असद सैन्य अड्डे पर आने की हिदायत दी गई है। उन्होंने यह भी कहा कि वैयक्तिक तौर पर किसी सैन्य कर्मी के बारे में कोई भी जानकारी साझा करना संभव नहीं होगा।

See More

Latest Photos