देश की पहली निजी तेजस ट्रेन 4 अक्टूबर से नई दिल्ली-लखनऊ के बीच दौड़ेगी

Total Views : 109
Zoom In Zoom Out Read Later Print

नई दिल्ली, (परिवर्तन)। भारतीय रेलवे देश की पहली निजी तेजस ट्रेन को अगले माह 4 अक्टूबर से नई दिल्ली-लखनऊ के बीच हरी झंडी दिखाने के लिए तैयार है। रेल मंत्रालय ने तेजस के परिचालन की जिम्मेदारी अपनी सहायक कंपनी भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) को सौंपी है।

नई दिल्ली-लखनऊ तेजस एक्सप्रेस में यात्रियों को घर से सामान ट्रेन में पहुंचाने और 25 लाख रुपये के मुफ्त यात्रा बीमा सहित अनेक ऐसी सुविधाए दी गई हैं जो आमतौर पर अन्य ट्रेन यात्रियों को नहीं मिलती हैं। यह ट्रेन मंगलवार को छोड़कर सप्ताह में छह दिन चलेगी और आठ से दस घंटे की दूरी को महज सवा छह घंटे में तय करेगी। इसमें रेलवे की डायनामिक अथवा फ्लेक्सी फेयर प्रणाली लागू होगी। आईआरसीटीसी के प्रवक्ता सिद्धार्थ सिंह ने सोमवार को तेजस एक्सप्रेस के परिचालन तिथि की पुष्टि करते हुए कहा कि नई दिल्ली-लखनऊ तेजस 4 अक्टूबर से यात्रियों के लिए उपलब्ध होगी। इसके लिए टिकट की बुकिंग भारतीय रेलवे के आरक्षण काउंटरों से नहीं हो सकेगी। आईआरसीटीसी की वेबसाइट और इसके मोबाइल ऐप की सेवा लेनी होगी। हालांकि, यात्री आईआरसीटीसी अधिकृत एजेंटों के माध्यम से अपने टिकट बुक करवा सकेंगे। इन ट्रेनों में 60 दिनों पहले आरक्षण की सुविधा होगी। पांच साल और उससे अधिक आयु के बच्चों का इसमें पूरा किराया चुकाना होगा। ट्रेन में सामान्य, व्यस्त और त्योहार के मौसम के लिए अलग-अलग किराया होगा। कैलेंडर वर्ष के फरवरी, मार्च और अगस्त महीने सामान्य होंगे। इसके अलावा, ट्रेन का किराया प्वाइंट टू प्वाइंट आधार पर होगा। रेलगाड़ी के रवाना होने से पांच मिनट पहले भी तत्काल बुकिंग की सुविधा होगी। हालांकि इसके लिए अधिक किराया चुकाना होगा। इन ट्रेनों में कोई तत्काल कोटा या प्रीमियम तत्काल कोटा नहीं होगा। केवल जनरल कोटा और विदेशी पर्यटक कोटा होगा। ईसी में 5 सीटों के विदेशी पर्यटक कोटा और सीसी में 50 सीटें विदेशी पर्यटकों के लिए उपलब्ध होंगी। आईआरसीटीसी ट्रेनों में यात्रा करने वाले सभी यात्रियों को 25 लाख रुपये तक का मुफ्त रेल यात्रा बीमा प्रदान किया जाएगा। आईआरसीटीसी नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर ट्रेन के यात्रियों को कम दर पर एक्जीक्यूटिव लाउंज सुविधा प्रदान करने पर भी काम कर रहा है। आईआरसीटीसी प्रबंधन में शुरू होने वाली पहली ट्रेन लखनऊ - नई दिल्ली-लखनऊ  की दूरी 6 घंटे 15 मिनट में तय करेगी। इस ट्रेन में एक एक्जीक्यूटिव श्रेणी का वातानुकूलित चेयरकार होगा, इस डिब्बे में कुल 56 सीटें होंगी। इसके अलावा 78 सीटों वाली नौ वातानुकूलित चेयरकार होंगी। ट्रेन की कुल वहन क्षमता 758 यात्रियों की होगी। लखनऊ से यह ट्रेन सुबह 06:10 बजे अपनी यात्रा शुरू करेगी और कानपुर सेंट्रल और गाजियाबाद में निर्धारित व्यावसायिक पड़ावों पर रुकते हुए दोपहर 12:25 बजे नई दिल्ली पहुंचेगी। वापसी दिशा में, ट्रेन 16:30 बजे नई दिल्ली से रवाना होगी और 22:45 बजे गाजियाबाद और कानपुर सेंट्रल मार्ग पर रुकते हुए लखनऊ पहुंचेगी। ट्रेन मंगलवार को छोड़कर सप्ताह में 6 दिन चलेगी। ट्रेन में यात्रियों को उच्च गुणवत्ता वाला भोजन और पेय पदार्थ उपलब्ध कराया जाएगा। भोजन अनिवार्य होगा और टिकट बुकिंग के समय ही शुल्क लिया जाएगा। इसमें अलग से मुफ्त कॉफी और चाय वेंडिंग मशीन का भी प्रावधान होगा। ट्रेन में एयरलाइंस की तर्ज पर ट्रॉलियों की सुविधा होगी।

See More

Latest Photos