एक दशक में 20,000 अंतरराष्ट्रीय रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज बने कोहली

Total Views : 141
Zoom In Zoom Out Read Later Print

पोर्ट ऑफ स्पेन, (परिवर्तन)। वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन मैचों की एकदिनी श्रृंखला के आखिरी मैच में नाबाद 114 रनों की शतकीय पारी खेलने वाले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने एक ऐतिहासिक उपलब्धि हासिल कर ली है। कोहली एक ही दशक में 20,000 अंतरराष्ट्रीय रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज बन गए हैं।

कोहली के अब खेल के तीनों प्रारूपों में 20,502 रन हो गए हैं, जिनमें से 20,018 रन कोहली ने मौजूदा दशक में बनाए हैं। इससे पहले, ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग के नाम एक दशक में सबसे अधिक अंतरराष्ट्रीय रन बनाने का रिकॉर्ड था। पोंटिंग ने 2000 के दशक में 18,962 रन बनाए हैं। इस सूची में दक्षिण अफ्रीका के हरफनमौला खिलाड़ी जैक्स कैलिस तीसरे नंबर पर हैं। कैलिस 2000 के दशक में 16,777 रन बनाए थे। श्रीलंका के पूर्व खिलाड़ी महेला जयवर्धने और कुमार संगाकारा क्रमश: 16,304 और 15,999 रन के साथ चौथे और 5 वें स्थान पर हैं। मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर 2000 के दशक में 15,962 रन के साथ छठे स्थान पर हैं। उल्लेखनीय है कि भारतीय क्रिकेट टीम ने वेस्टइंडीज को आखिरी एकदिनी में 6 विकेट से हरा कर तीन मैचों की श्रृंखला 2-0 से अपने नाम कर ली। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए वेस्टइंडीज ने वर्षा वाधित मैच में निर्धारित 35 ओवर में सात विकेट के नुकसान पर 240 रन बनाए और डकवर्थ लुईस नियम के तहत भारतीय टीम को जीत के लिए 35 ओवर में 255 रन का लक्ष्य मिला। लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने 15 गेंदें शेष रहते ही हासिल कर लिया। कप्तान कोहली 114 रन बनाकर नाबाद रहे,वहीं श्रेयस अय्यर ने 65 रनों की शानदार अर्धशतकीय पारी खेली।  कोहली को उनके शानदार शतक के लिए  मैन ऑफ द मैच चुना गया। इसके अलावा कोहली को  सबसे अधिक रन बनाने के लिए  प्लेयर ऑफ द सीरीज भी चुना गया।

See More

Latest Photos