नेपाल में पर्वतों के बीच मिली नई झील

Total Views : 257
Zoom In Zoom Out Read Later Print

काठमांडू, (परिवर्तन)। नेपाल में पर्वतारोहियो की टीम ने 5200 मीटर की उंचाई पर एक नई झील खोजी है जो दुनियां की सबसे उंची झील हो सकती है। यह जानकारी रविवार को मीडिया रिपोर्ट से मिली।

समाचार पत्र द हिमालयन टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, यह झील नेपाल के मनांग जिले में चामे ग्रामीण नगरपालिका के सिंगारखरका में 5,200 मीटर की ऊंचाई पर पर्वतों के बीच स्थित है। ऐसा बताया जा रहा है कि खोजी गई नई 'काजिन सारा' झील दुनिया की सबसे ऊंची झील हो सकती है। फिलहाल दुनिया की सबसे ऊंची झील होने का ख़िताब तिलिचो झील के पास है। तिलिचो झील भी नेपाल के मनांग जिले में स्थित है। चामे ग्रामीण नगरपालिका के अध्यक्ष लोकेंद्र घाले के अनुसार, इस झील की खोज कुछ महीने पहले ही पर्वतारोहियों की एक टीम ने की थी। उन्होंने बताया, "पर्वतारोहियों की टीम द्वारा ली गई झील की माप के मुताबिक यह 5,200 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। हालांकि अभी इसकी आधिकारिक तौर पर पुष्टि की जानी बाकी है। इस झील को 1,500 मीटर लंबी और 600 मीटर चौड़ी होने का अनुमान है।" हिमालयन टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, इस झील को स्थानीय लोग सिंगार कहते हैं। ऐसा अनुमान है कि इस झील का निर्माण हिमालय की पिघली बर्फ से हुआ है। 'काजिन सारा' झील तक मनांग जिला मुख्यालय से 18 घंटे की चढ़ाई कर पहुंचा जा सकता है। वहीं, चामे से इसकी दूरी 24 किलोमीटर है। चामे नगरपालिका के अधिकारियों का कहना है कि इस नई झील को दुनिया की सबसे ऊंची झील घोषित किए जाने पर यहां पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा।

See More

Latest Photos